राष्ट्रवाद पर निबंध

Essay on Nationalism in Hindi

राष्ट्रवाद पर निबंध : Essay on Nationalism in Hindi:- आज के इस लेख में हमनें ‘राष्ट्रवाद पर निबंध’ से सम्बंधित जानकारी प्रदान की है।

यदि आप राष्ट्रवाद पर निबंध से सम्बंधित जानकारी खोज रहे है? तो इस लेख को शुरुआत से अंत तक अवश्य पढ़े। तो चलिए शुरू करते है:-

राष्ट्रवाद पर निबंध : Essay on Nationalism in Hindi

प्रस्तावना:-

अपने देश के प्रति प्रेम-भावना व आत्मसमर्पण की भावना रखना ही राष्ट्रवाद कहलाता है। राष्ट्रवाद का सीधा सा अर्थ अपने राष्ट्र के प्रति सम्मान व प्रेम भाव रखना होता है।

राष्ट्रवाद एक ऐसी भावना होती है, जो आपको बिना रिश्ते के भी पूरे देश से जोड़ती है। राष्ट्रवाद की भावना होने पर व्यक्ति अपने राष्ट्र के विकास एवं समृद्धि को अधिक महत्व देता है।

राष्ट्रवाद ऐसी भावना होती है, जो आपको अपने देश के प्रति हमेशा ईमानदार बनाए रखेगी।

राष्ट्रवाद के महत्व:-

एक देश की जनता में राष्ट्रवाद की भावना का होना अतिआवश्यक है। आज पूरी दूनिया छोटे-छोटे राष्ट्रों में विभाजित है, जिनमें कईं धर्मों व जातियों के लोग रहते है।

जो अपने उस राष्ट्र को काफी महत्व देते है। कईं लोग अपने राष्ट्र को माँ का दर्जा भी देते है और इसकी सुरक्षा के लिए हँसते-हँसते अपनी जान न्यौछावर कर देते है।

राष्ट्रवाद सिर्फ एक भावना है, जो हमें हर व्यक्ति से जुड़े रखने का प्रयास करती है और सभी में एकजुटता की भावना का विकास करती है।

राष्ट्रवाद की भावना व्यक्ति में दुसरे लोगों के लिए बिना स्वार्थ के कुछ करने की ललक पैदा करती है। जिससे व्यक्ति स्वयं का विकास तो करता ही है और अपने साथ अपने राष्ट्र को भी आगे लेकर जाता है।

राष्ट्रवाद की भावना के अभाव के दुष्परिणाम:-

  • जब किसी देश के व्यक्ति में अपने देश के प्रति राष्ट्रवाद की भावना की कमी होती है, तो उस देश का अस्तित्व ज्यादा समय तक नही रहता है।
  • राष्ट्रवाद की कमी के कारण देश की सुरक्षा भी हमेशा खतरे में होती है।
  • इसके कारण देश में अनेकों तरह के अपराध भी बढ़ते है।
  • राष्ट्रवाद की भावना न होने पर उस देश में राष्ट्रीय एकता की भावना भी नहीं रह पाती है।
  • इसके बिना देश कमजोर हो जाता है और विकास नहीं कर पाता है।
  • यदि लोगों में अपने देश के प्रति प्रेम-भावना नहीं रहेगी तो वह उसकी समृद्धि और उसके देशवासियों के विकास के प्रयास भी नहीं करेंगे।

राष्ट्रवाद के लाभ:-

  • राष्ट्रवाद की भावना पूरे देश को एक सूत्र में बांधे रखती है।
  • जिन लोगों में देश प्रेम की भावना होती है, वें उसकी सुरक्षा के लिए अपनी जान भी न्यौछावर कर देते है।
  • इससे देश में अपराध भी कम होते है।
  • देश में राष्ट्रीय एकता की भावना बढ़ती है और लोगों के बीच में प्रेम-भावना का भी विकास होता है।
  • राष्ट्रवाद की भावना जिस देश में होती है, उसका विकास व समृद्धि जल्दी होती है और उसे कमजोर करना काफी मुश्किल होता है।
  • वह देश हमेशा अपने लोगों के बल पर मजबूत रहता है।

उपसंहार:-

राष्ट्रवाद की भावना एक राष्ट्र को जोड़े रखने का कार्य करती है। इससे देश में लोगों के संबंध मजबुत होते है और कोई भी दूसरा देश उसे आसानी से हरा नही सकता है।

एक देश के निर्माण में यह पहली आवश्यकता होती है, तभी एक देश लम्बे समय तक स्वतंत्र रह सकता है।

वरना कोई भी आकर उस देश को तबाह कर सकता है। इसलिए राष्टवाद की भावना का देशवासियो में होना काफी महत्वपूर्ण होता है।

अंतिम शब्द

अंत में आशा करता हूँ कि यह लेख आपको पसंद आया होगा और आपको हमारे द्वारा इस लेख में प्रदान की गई अमूल्य जानकारी फायदेमंद साबित हुई होगी।

अगर इस लेख के द्वारा आपको किसी भी प्रकार की जानकारी पसंद आई हो तो, इस लेख को अपने मित्रों व परिजनों के साथ फेसबुक पर साझा अवश्य करें और हमारे वेबसाइट को सबस्क्राइब कर ले।

4.5/5 - (2 votes)

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.