युवा पर निबंध

Essay on Youth in Hindi

युवा पर निबंध : Essay on Youth in Hindi:- आज के इस लेख में हमनें ‘युवा पर निबंध’ से सम्बंधित जानकारी प्रदान की है।

यदि आप युवा पर निबंध से सम्बंधित जानकारी खोज रहे है? तो इस लेख को शुरुआत से अंत तक अवश्य पढ़े। तो चलिए शुरू करते है:-

युवा पर निबंध : Essay on Youth in Hindi

प्रस्तावना:-

युवावस्था मनुष्य के जीवन की आवश्यकता होती है, जो बाल्यावस्था व वृद्धावस्था के मध्य में आती है।

युवा किसी भी देश का महत्पूर्ण हिस्सा होता है। उन्हीं के हाथों में देश का भविष्य निर्भर करता है। एक देश का युवा ही उसके देश को विकास की राह में ले जा सकता है।

युवावस्था एक ऐसी अवस्था है, जिसमें व्यक्ति सबसे ज्यादा चुस्त व फुर्तीला रहता है और इसी आयु में सबसे ज्यादा मेहनत भी करता है।

एक युवा ही एक देश को आगे ले जा सकता है और चाहे तो उसे डूबा भी सकता है। इसलिए, युवाओं को जीवन में सही राह दिखाना काफी आवश्यक है।

आज भारत सबसे ज्यादा युवा जनसंख्या वाला देश है। इस समय भारत में ज्यादातर लोग अपनी युवावस्था में है, जो भारत के लिए काफी फायदेमंद है।

इससे भारत को विकास में काफी योगदान मिलेगा। देश को मजबूत करने के लिए युवाओं का मजबूत होना काफी आवश्यक है।

युवाओं का देश में महत्व:-

एक युवा उस देश का गौरव होता है। वह प्रत्येक कार्य करने में सक्षम होता है। वह देश में काफी महत्वपूर्ण होता है। आज चाहे कोई भी क्षेत्र हो, वहाँ पर युवाओं ने अपने आप को साबित किया है।

युवा ही पूरे देश की रूपरेखा को परिवर्तित करने की क्षमता रखते है। भारत के इतिहास में कईं लोगों ने युवावस्था में ही पराक्रम दिखाकर सम्मान प्राप्त किया है।

युवा इस देश के भविष्य को सुधारने के लिए काफी आवश्यक है। आज भी हमारा देश कईं कुरूतियों में फंसा हुआ है, जिससे सिर्फ युवा पीढ़ी ही अपनी सोच को परिवर्तित कर सकती है।

आज तक इस देश में जो भी परिवर्तन या विकास हुआ है, उसमें युवा पीढ़ी का एक बहुत बड़ा योगदान रहा है।

उनकी सोच ही आज इस देश को इस मुकाम पर ले जा रही है। स्वतंत्रता प्राप्त करने में भी युवा पीढ़ी का महत्वपूर्ण स्थान रहा है।

कईं युवाओं ने भारत देश को स्वतंत्रता दिलाने के लिए अपनी छोटी उम्र में ही प्राणों की आहुति दी है। उनकी इस आहुति की वजह से ही आज हम सभी खुली हवा में साँस ले पा रहे है।

देश के विकास में युवाओं की भूमिका:-

युवावस्था एक ऐसी अवस्था है, जब व्यक्ति की सोच विकसित होने लगती है। उसके मस्तिष्क में नए-नए विचार आते है और यदि उन विचारों को सही दिशा दी जाए तो वह व्यक्ति कुछ भी करने में सक्षम हो जाता है।

अपना विकास करने के लिए युवाओं को सिर्फ एक सही राह की आवश्यकता होती है। इस आयु में व्यक्ति में इतना जोश और हिम्मत होती है कि वह किसी भी लक्ष्य को आसानी से प्राप्त करने की ताकत रखता है।

यदि इस युवा पीढ़ी को सही मार्ग व मौका मिले तो वह इस देश की रूपरेखा ही बदलकर रख देंगे। इस देश के विकास के लिए युवाओं का जागरूक होना अतिआवश्यक है।

एक युवा पीढ़ी ही है, जो कि भारत देश के विकसित होने का सपना पूरा कर सकती है। आज युवा पीढ़ी ने इस देश को एक नई दिशा प्रदान की है।

आज तकनीकी का भी काफी अधिक विकास हो गया है, जो आज के समय में हर देश के विकास के लिए आवश्यक है।

युवा पीढ़ी के विकास में बढ़ाना आवश्यक है:-

हर युवा विकास के राह में आगे नहीं बढ़ पा रहा है। कई युवा ऐसे है, जो समय पर सही राह न मिलने के कारण अपने जीवन को गलत राह की और मोड़ देते है। आज युवा कईं कारणों से गलत रास्ते पर जा रहे है, जिसके कारण निम्नलिखित है:-

  • बेरोजगारी:- आज देश में बेरोजगारी से हर व्यक्ति परेशान है। आज युवा शिक्षित होने के बाद भी अपनी योग्यता के अनुसार रोजगार प्राप्त नहीं कर पाता है। वह इतना अधिक पढ़ाई करने के बाद भी बेकार ही घूमता रहता है। शिक्षित युवा कभी भी मजदूरी जैसे कार्य नहीं कर पाता है और जब उसे रोजगार नहीं मिलता है, तो वह चोरी-चकारी व धोखाधड़ी जैसे कार्य करने लगता है। इससे उसका जीवन सही राह पर जाने के बजाय गलत रास्ते पर जाने लगता है।
  • गरीबी:- कईं युवा बच्चे गरीब होते है, जिस कारण उनके पास इतने पैसे होते ही नहीं है कि वें अच्छी शिक्षा प्राप्त कर पाए और वह अपना जीवन मजदूरी करने में ही बिता देते है। उनकी योग्यता ऐसे ही बर्बाद हो जाती है। वह अपना जीवन मजदूरी करने व नशा करने में ही बिता देते है।
  • तकनीकी शिक्षा की कमी:- वर्तमान समय में भी कईं लोगों को शिक्षा प्राप्त नहीं हो पा रही है। जिससे वें अपना जीवन उसे अंधेरे में ही जी रहे है, जिसमें उनके माता-पिता ने जिया है। आज जिन्हें शिक्षा प्राप्त हो रही है, उन्हें आधुनिक शिक्षा नहीं मिल रही है, जो वर्तमान युग में आवश्यक होती है। अब साधारण शिक्षा का समय नहीं है बल्कि, तकनीकी व वैज्ञानिकी शिक्षा का समय है। अब युवा शिक्षित तो है लेकिन, उनके पास वह शिक्षा नहीं है जिसकी उन्हें आवश्यकता है। जिससे वें इस प्रतिस्पर्था के युग में पिछड़कर रह गए है।
  • नशा:- आज के कईं युवा ऐसे है, जो अपने करियर की चिंता करने की बजाय नशे में डूबे हुए है। वें छोटी उम्र में ही नशा करना शुरू कर देते है। जिससे वें जीवन का मार्ग भटककर उसी में उलझकर रह जाते है। वें धीरे-धीरे इस अँधेरे में फंसते ही चले जाते है। जब तक उन्हें समझ आता है, तब तक काफी देर हो चुकी होती है।

उपसंहार:-

युवा पीढ़ी से ही इस देश का उद्धार हो सकता है। इसलिए, यह काफी आवश्यक है कि युवा पीढ़ी को सही दिशा-निर्देश प्राप्त हो।

आज युवा पीढ़ी ने कईं महान कार्य किये है। भारत के इतिहास में कईं युवा लोगों ने ऐसे कार्य किये है, जिनकी कल्पना करना भी काफी मुश्किल है। आज की युवा पीढ़ी को उनसे कईं चीज़े सीखने की आवश्यकता है।

आज भारत की युवा पीढ़ी ने अपना नाम न सिर्फ अपने देश में बल्कि पूरी दुनिया में रोशन किया है। उन्होंने दुनिया में एक अलग ही मुकाम हासिल किया है।

यदि सभी युवाओं को ऐसे ही सही राह मिले तो वें भी हमारे देश का नाम पूरी दुनिया में रोशन करेंगे।

सरकार को भी युवाओं के प्रति जागरूक होने की आवश्यकता है। उन्हें ऐसे अवसर प्रदान करने की आवश्यकता है, जिससे वें अपना व अपने परिवार के जीवन को सुधार सके और इस देश को विकास की राह पर अग्रसर कर सके।

अंतिम शब्द

अंत में आशा करता हूँ कि यह लेख आपको पसंद आया होगा और आपको हमारे द्वारा इस लेख में प्रदान की गई अमूल्य जानकारी फायदेमंद साबित हुई होगी।

अगर इस लेख के द्वारा आपको किसी भी प्रकार की जानकारी पसंद आई हो तो, इस लेख को अपने मित्रों व परिजनों के साथ फेसबुक पर साझा अवश्य करें और हमारे वेबसाइट को सबस्क्राइब कर ले।

5/5 - (1 vote)

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.