अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस कब मनाया जाता है?

International Women's Day in Hindi

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस कब मनाया जाता है? : International Women’s Day in Hindi:- आज के इस लेख में हमनें ‘अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस’ से सम्बंधित जानकारी प्रदान की है।

यदि आप अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस से सम्बंधित जानकारी खोज रहे है? तो इस लेख को शुरुआत से अंत तक अवश्य पढ़े। तो चलिए शुरू करते है:-

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस क्या है? : What is International Women’s Day in Hindi?

महिलाएं इस समाज का एक महत्वपूर्ण अंग होती है। महिलाओं के बिना समाज की कल्पना करना भी असम्भव है। एक महिला इस समाज में कईं रूपों में निवास करती है, जैसे:- बहन, बेटी, माँ, आदि।

प्राचीन समय में महिलाओं को पुरुषों के समान अधिकार प्राप्त नहीं थे और न ही उन्हें पुरुषों जितना सम्मान दिया जाता था। पहले महिलाएं सिर्फ घर की चारदीवारी के अंदर ही सिमित थी।

लेकिन, समय के साथ परिस्थितियां बदलती गई और महिलाओं ने आगे बढ़कर अपने अधिकारों की मांग की और समाज में समानता का अधिकार भी प्राप्त किया।

आज महिलाएं पुरुषों के समान है। इतना ही नहीं आज प्रत्येक क्षेत्र में महिलाओं ने पुरुषों को भी पीछे छोड़ दिया है।

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस की शुरुआत कब और क्यों हुई?

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस की शुरुआत मजदुर महिलाओं के आंदोलन से शुरू हुआ। सन 1908 में करीब 15000 महिलाओं ने न्यूयॉर्क की सड़कों पर मार्च निकाला था।

जिसमें उनकी कुछ मांगे थी, जिनमें मतदान का अधिकार, नौकरी के अवधि कम करना, वेतन बढ़ाना, आदि मुद्दे शामिल थे।

ठीक इसके अगले वर्ष इसी दिन अमेरिका की सोशलिस्ट पार्टी ऑफ़ अमरीका ने पहला राष्ट्रीय महिला दिवस मनाया और उसी दिन इसे महिला दिवस घोषित किया।

इसके बाद सन 1910 में क्लारा जतिन ने कामकाजी महिलाओं के अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन में महिला दिवस को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर मनाने का प्रस्ताव रखा, जिसमें 100 महिलाएं सम्मलित थी, जो कि 17 देशों से आई थी।

उन सभी को यह सुझाव पसंद आया। तभी से इसे अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर महिला दिवस घोषित कर दिया गया।
सन 1917 में जब पहला विश्व युद्ध शुरू हुआ, तो रूस के लोग इस युद्ध से काफी परेशान हो गए थे।

तब वहां की महिलाओं ने खाना और शांति के लिए रूस की सड़कों पर प्रदर्शन किया। यह विरोध इतना प्रबल था कि सम्राट निकोस अपना पद छोड़ने के लिए मजबूर हो गए।

महिलाओं ने यह प्रदर्शन 28 फरवरी के दिन शुरू किया था, जो ग्रेगेरियन कैलेंडर के हिसाब से इस दिन 8 मार्च होता है। उसी दिन से 8 मार्च को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस घोषित कर दिया गया।

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस क्यों मनाया जाता है?

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस को मनाने का मुख्य कारण महिलाओं को सुरक्षा प्रदान करना, उनके साथ हो रहे अत्याचारों को रोकना, उन्हें समानता का अधिकार दिलाना, उनको शिक्षा व अच्छा स्वास्थ्य उपलब्ध करना था।

आज भी कईं देशों में महिलाओं को शिक्षा और स्वास्थ्य की सुविधाएँ उपलब्ध नहीं है। पहले महिलाओं को मतदान करने का अधिकार भी प्राप्त नहीं था।

महिला दिवस घोषित होने के बाद ही महिलाओं को मतदान करने का अधिकार प्राप्त हुआ। महिलाओं को रोजगार उपलब्ध कराना व स्वरोजगार के लिए प्रोत्साहित करना था।

आज इतना विकास होने के बाद भी कईं देशों में महिलाओं की स्थिति दयनीय है।

उन्हें आज भी शिक्षा से दूर रखा जाता है और उनके साथ विभिन्न प्रकार के अत्याचार किये जाते है। इन सभी अत्याचारों को रोकने के लिए ही अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस घोषित किया गया।

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस को कैसे मनाया जाता है?

अलग-अलग देशों में इस दिवस को अलग तरीके से मनाया जाता है। अमेरिका में मार्च के महीने को ‘WOMEN HISTORY MONTH’ के रूप में मनाया जाता है।

रूस व कईं देशों में इस दिन महिलाओं को फूल व तोहफे दिए जाते है। कईं देशों में इस दिन महिलाओं को पूरे दिन या आधे दिन का अवकाश दिया जाता है, जैसे:- चीन, नेपाल, अफगानिस्तान अन्य भी कई देश है।

भारत में इस दिन कईं संस्थानों द्वारा महिलाओं के सम्मान के लिए कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है और उनका सम्मान किया जाता है।

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर शुभकामनाएँ : International Women’s Day Quotes in Hindi

वह जन्म देती है, वह मौत से बचाती है,
वह आगे बढ़ाती है, वह औरत कहलाती है.
महिला दिवस की शुभकामनाएं…

उसका दामन है बड़ा…
दिया उसने अपना प्यार सारा
कहलाई वो स्त्री, कहलाई वो एक नारी
बनकर एक आदर्श उसने किया जग में उजियारा
महिला दिवस की हार्दिक बधाई

औरत का इस दुनिया में मान है
औरत एक बहन है
एक बेटी है, एक पत्नी है
औरत के बिना यह जहान कुछ भी नहीं है
महिला दिवस की शुभकामनाएँ!

नारी तुम प्रेम हो, आस्था हो, विश्वास हो,
टूटी हुई उम्मीदों की एकमात्र आस हो,
हर जन का तुम्हीं तो आधार हो,
नफ़रत की दुनिया में मात्र तुम्हीं प्यार हो,
उठो अपने अस्तित्त्व को संभालो,
केवल एक दिन ही नहीं,
हर दिन नारी दिवस बना लो।

नारी शक्ति है ,सम्मान है, नारी गौरव है, अभिमान है,
यही लक्ष्मी , यही सरस्वती, यही दुर्गा का अवतार है,
नारी ने ही ये रचा विधान है, हमारा नतमस्तक इसको प्रणाम है।
Happy Women’s Day!

हज़ारों फूल चाहिए एक माला बनाने के लिए,
हज़ारो दीपक चाहिए एक आरती सजाने के लिए,
हज़ारो बून्द चाहिए समुद्र बनाने के लिए,
पर एक “स्त्री” अकेली ही काफी है..
घर को स्वर्ग बनाने के लिए…
महिला दिवस की हार्दिक बधाई

“दिन की रौशनी ख्वाबों को बनाने में गुजर गई,
रात की नींद बच्चे को सुलाने में गुजर गई,
जिस घर में मेरे नाम की तख्ती भी नही,
साड़ी उम्र उस घर को सजाने में गुजर गई.
Happy Women’s Day”

कुछ लोग कहते है कि
नारी का कोई घर नहीं होता,
लेकिन मेरा यकीन है कि
औरत के बिना कोई घर,
घर नहीं होता!!!
Happy Women’s Day”

दुनिया की पहचान है औरत,
हर घर की जान है औरत,
बेटी, बहन, माँ और पत्नी बनकर,
घर घर की शान है औरत!

सबका ध्यान रखती हो…
सबका दर्द बांटती हो…
ईंटों के मकान को घर बनाती हो…
मैं तुम जितना मजबूत किसी को नहीं देखा
Happy Women’s Day

अंतिम शब्द

अंत में आशा करता हूँ कि यह लेख आपको पसंद आया होगा और आपको हमारे द्वारा इस लेख में प्रदान की गई अमूल्य जानकारी फायदेमंद साबित हुई होगी।

अगर इस लेख के द्वारा आपको किसी भी प्रकार की जानकारी पसंद आई हो तो, इस लेख को अपने मित्रों व परिजनों के साथ फेसबुक पर साझा अवश्य करें और हमारे वेबसाइट को सबस्क्राइब कर ले।

5/5 - (1 vote)

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.