जल बचाओ पर भाषण

Save Water Speech in Hindi

जल बचाओ पर भाषण : Save Water Speech in Hindi:- आज के इस लेख में हमनें ‘जल बचाओ पर भाषण’ से सम्बंधित जानकारी प्रदान की है।

यदि आप जल बचाओ पर भाषण से सम्बंधित जानकारी खोज रहे है? तो इस लेख को शुरुआत से अंत तक अवश्य पढ़े। तो चलिए शुरू करते है:-

जल बचाओ पर भाषण : Save Water Speech in Hindi

शुप्रभात, आदरणीय प्रधानाचार्य जी, माननीय शिक्षकगण और मेरे प्यारे साथियों, आप सभी को मेरा प्यारभरा नमस्कार।

सबसे पहले मैं आप सभी को धन्यवाद देना चाहता हूँ कि आप सभी ने मुझे इस मंच पर जल बचाओ जैसे मुद्दे पर भाषण देने का अवसर प्रदान किया।

आज मैं आप सभी के सामने जल बचाओं पर भाषण देना चाहता हूँ। जैसा कि आप सभी जानते है कि जल हम सभी के लिए कितना अधिक आवश्यक है।

बिना पानी के जीवन की कल्पना भी नहीं की जा सकती है। इसके बिना हम लोग एक दिन भी जीवित नहीं रह सकते है।

चाहे मनुष्य हो या जानवर, सभी के लिए जल एक मुलभुत आवश्यकता है। ‘जल ही जीवन है’ जल के बिना हमारें जीवन का कोई अस्तित्व नहीं है।

पानी एक बहुत ही अनमोल तत्व है, जो हमें हमारी पृथ्वी से प्राप्त हुआ है। आज मनुष्य के कार्यों की वजह से अधिकांश जल प्रदूषित हो गया है।

आज हमने सभी नदियों के जल को दूषित कर दिया है। कारखानों से निकला दूषित पानी नदियों व तालाबों में मिल जाता है। जिससे जलीय जीवों को भी काफ़ी अधिक नुकसान होता है।

जगह-जगह कचरा फेंकने से जल का बहाव रुक गया है। जिस कारण भी काफ़ी अधिक मात्रा में जल प्रदूषित हो गया है।

आज यदि हम जल की अहमियत को नहीं समझेंगे तो भविष्य में हमें इसके लिए बहुत पछताना पड़ेगा। बिना पानी के तो यह धरती भी बंजर हो जाएगी।

बिना जल के हम धरती पर अन्न भी नहीं ऊगा पाएंगे और इससे पूरी दुनिया में भूखमरी फैल जाएगी। इसलिए हमें पानी की अहमियत को समझना होगा और इसके बचाव के तरीकों को ढूंढना होगा।

इस सम्पूर्ण पृथ्वी पर 75 प्रतिशत भाग पर पानी है। लेकिन, इसमें से मात्र 1 प्रतिशत पानी ही मानव के पीने योग्य है।

शेष जल का बचा कुछ भाग ग्लेशियर रूप में है और बचा हुआ पानी समुद्र में खारे पानी के रूप में है। जो हमारें किसी भी काम का नहीं है।

उसी 1 प्रतिशत जल में ही सभी मानव, जानवर एवं पेड़-पौधों का गुजारा होता है। इसलिए हमें पानी को बचाने की आवश्यकता है अन्यथा यह भी हमारें पीने योग्य नहीं बचेगा।

आजकल जल प्रदूषण की समस्या दिन-प्रतिदिन बढ़ती ही जा रही है। यदि ऐसे ही पानी प्रदूषित होता रहा, तो वह समय दूर नहीं जब बूँद-बूँद पानी के लिए मानवजाति तरस जाएगी।

इसलिए हमें अभी से ही जागरूक होना होगा। आज सभी लोग पानी के महत्व को भूल रहे है और उसको लगातार व्यर्थ कर रहे है।

आज यह आवश्यक हो गया है कि हम सभी मिलकर पानी को प्रदूषित होने से बचाएं। तभी हम सभी भविष्य में पानी की कमी की समस्या से बच सकते है।

आज सरकार भी जागरूक हो गई है और जल बचाव के विभिन्न अभियान चला रही है। जल को बचाने का कर्तव्य केवल सरकार का ही नहीं अपितु इस देश के प्रत्येक नागरिक का है।

इसलिए हमें भी सरकार का साथ देना होगा और जल बचाओ के अभियानों में भी अपना योगदान देना होगा।

अतः आप सभी पानी का महत्व समझ गए होंगे और आज से पानी बचाने का प्रयास करेंगे। इतना कहकर मैं अपने इस भाषण को समाप्त करने जा रहा हूँ।

आप सभी का बहुत-बहुत धन्यवाद!

अंतिम शब्द

अंत में आशा करता हूँ कि यह लेख आपको पसंद आया होगा और आपको हमारे द्वारा इस लेख में प्रदान की गई अमूल्य जानकारी फायदेमंद साबित हुई होगी।

अगर इस लेख के द्वारा आपको किसी भी प्रकार की जानकारी पसंद आई हो तो, इस लेख को अपने मित्रों व परिजनों के साथ फेसबुक पर साझा अवश्य करें और हमारे वेबसाइट को सबस्क्राइब कर ले।

4.9/5 - (30 votes)

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.