विश्व पर्यटन दिवस क्यों मनाया जाता है? [जानें]

World Tourism Day in Hindi

विश्व पर्यटन दिवस क्यों मनाया जाता है? [जानें] : World Tourism Day 2022:- आज के इस लेख में हमनें विश्व पर्यटन दिवस से सम्बंधित सम्पूर्ण जानकारी प्रदान की है।

यदि आप भी विश्व पर्यटन दिवस से सम्बंधित जानकारी प्राप्त करना चाह रहे रहे है तो इस लेख को शुरुआत से अंत तक अवश्य पढ़े। तो चलिए शुरू करते है:-

विश्व पर्यटन दिवस क्यों मनाया जाता है? [जानें] : World Tourism Day 2022 in Hindi

आज के इस समय में जहाँ जिंदगी बहुत तेज गति से चलती है। उस समय में व्यक्ति अपने मनोरंजन के लिए अलग-अलग तरीके खोजता है।

आज के समय में दुनिया में प्रगति बहुत तेजी से हो रही है। सभी लोग मेहनत से काम करते है। लेकिन कुछ समय के बाद मनुष्य अपनी जिंदगी से ऊब जाता है।

तब वह अपने मनोरंजन के लिए देश व विदेश में घूमने चला जाता है। जो उसके स्वास्थ्य के लिए भी अच्छा होता है। इसे ही पर्यटन कहते है।

इसी पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए ही पर्यटन दिवस मनाया जाता है। आइये अब हम बात करते है कि अंतर्राष्ट्रीय पर्यटन दिवस कब, क्यों व कैसे मनाया जाता है?

इसमें क्या-क्या थीम होती है? और इस वर्ष की थीम और देश के बारे में भी नीचे जानकारी प्रदान की गई है।

विश्व पर्यटन दिवस कब मनाया जाता है?

प्रत्येक वर्ष पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए 27 सितम्बर के दिन अंतराष्ट्रीय पर्यटन दिवस मनाया जाता है।

27 सितम्बर के दिन यह इसलिए भी मनाया जाता है, क्योंकि 27 सितम्बर 1970 को ही संयुक्त राष्ट्र संघ ने विश्व पर्यटन संगठन (World Tourisam Organization) को स्वीकार किया था।

संयुक्त राष्ट्र संघ द्वारा सबसे पहले इसे 1980 में 27 सितम्बर को प्रथम अंतराष्ट्रीय पर्यटन दिवस के रूप में मनाया गया था।

संयुक्त राष्ट्र संघ ने पूरे विश्व में पर्यटन के बढ़ते स्तर देखकर सन 1970 में एक संस्था का निर्माण किया, जिसका नाम संयुक्त राष्ट्र विश्व पर्यटन संस्था रखा गया।

इस संस्था ने ही 27 सितम्बर 1970 को अंतराष्ट्रीय पर्यटन की शुरुआत की। तब से ही WTO हर वर्ष 27 सितम्बर को इसे मनाता है।

इसका मुख्य उद्देश्य है:- लोगो को पर्यटन के प्रति प्रोत्साहित करना व सभी को इसका महत्व बताना। इसमें पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए कुछ नियम बनाये गए।

जैसे:- जो व्यक्ति पर्यटन करने के लिए जिस देश में जायेगा, उसकी सुरक्षा की जिम्मेदारी उसी देश की सरकार की होगी। इस वर्ष इसे 27 सितम्बर सोमवार को मनाया जाएगा।

विश्व पर्यटन दिवस क्यों मनाया जाता है?

पर्यटन दिवस के महत्व को जानने से पहले आपको पर्यटन के महत्व को समझना पड़ेगा। पर्यटन का अर्थ होता है:- भ्र्मण करना अर्थात अलग-अलग जगहों पर जाकर घूमना।

किसी भी देश का विकास मुख्य रूप से उसकी GDP पर निर्भर करता है और पिछले कुछ समय से पर्यटन का GDP में सदैव एक मुख्य योगदान रहता है।

जब कोई व्यक्ति घूमने निकलता है, तो उस जगह घूमने के साथ-साथ खाने व रहने के लिए जगह का भी उपयोग करता है।

इसके साथ-साथ वह खरीदारी भी करता है। इन सभी कार्यों से भी रोजगार में बहुत बढ़ोत्तरी होती है। पर्यटन से ही एक देश दूसरे देश की संस्कृति से जुड़ता है।

पर्यटन से ही एक देश के लोग दूसरे देश की संस्कृति, खान-पान व रहन-सहन को देख सकते है। आज कईं देश पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए अपनी संस्कृति व ऐतिहासिक धरोहरों को बचा रहे है।

इसके साथ नए-नए पर्यटन स्थलों का निर्माण कर रहे है। पर्यटन से किसी भी देश के आर्थिक, सामाजिक व धार्मिक मूल्यों का विकास होता है।

आज पर्यटन दुनिया के सबसे बड़े व्यापारों में से एक बनकर उभरा है। आज दुनिया के कई बड़े व छोटे देश आर्थिक रूप से पर्यटन पर निर्भर करते है।

कईं विकसित व विकासशील देशों की अर्थव्यवस्था का एक महत्वपूर्ण हिस्सा पर्यटन पर निर्भर है। थाईलैंड और फिलीपींस जैसे देश पूर्ण रूप से पर्यटन पर निर्भर करते है।

भारत जैसे देश जहाँ बहुत सी ऐतिहासिक धरोहरें मौजूद है। जहाँ हर वर्ष बहुत से पर्यटक देश-विदेश से घूमने आते है।

भारत की अर्थव्यवस्था का बहुत बड़ा हिस्सा पर्यटन से ही आता है। इसके साथ-साथ और भी कई रोजगार बनते है।

अगर पर्यटन कम हो जाता है तो देश की आर्थिक स्थिति पर बहुत बुरा प्रभाव पड़ता है। इसी वजह से पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए पर्यटन दिवस को मनाया जाता है।

विश्व पर्यटन दिवस कैसे मनाया जाता है?

पर्यटन दिवस हर वर्ष एक नए संदेश के साथ मनाया जाता है। प्रत्येक वर्ष 27 सितम्बर को WTO द्वारा एक थीम का चुनाव किया जाता है व एक देश चुना जाता है।

जहाँ सभी देशों की बैठक होती है। यहाँ से पूरे विश्व के लिए WTO के अध्यक्ष द्वारा संदेश दिया जाता है। यह पर्यटन दिवस उद्योगों, सरकारी विभागों व कई संगठनों द्वारा मनाया जाता है।

इस दिन पूरे विश्व में अलग-अलग जगह पर प्रदर्शनियां लगाई जाती है। कईं ऐतिहासिक स्थलों को मुफ्त में खोला जाता है।

जिससे लोग पर्यटन स्थलों की तरफ आकर्षित होते है। कईं लोग पर्यटन स्थलों पर आकर अपने इन पलो को कैमरे में कैद कर लेते है।

अब कई देश नए-नए पर्यटन स्थलों का निर्माण करा रहे है और पुराने पर्यटन स्थलों का पुनर्निर्माण भी करा रहे है।

इस वर्ष भी 27 सितम्बर को यह आयोजन किया जायेगा। इस वर्ष इसका थीम Tourism of Inclasive Growth रखा गया है।

विश्व पर्यटन दिवस पर संदेश

इस वर्ष 27 सितम्बर को यह दिवस कोविड के नियमों के साथ मनाया जाएगा। अब आप पर्यटन के महत्व को समझ गए होंगे कि यह कितना आवश्यक है?

अगर आप भी कहीं घूमने जाने वाले है? तो आपको कोविड के सभी नियमों का पालन करना पड़ेगा।

विश्व पर्यटन दिवस की शुभकामनाएँ

पर्यटन दिवस की आप सभी को बहुत शुभकामनाएँ। आप अपने मित्रों व रिश्तेदारों को भी इस दिवस पर बधाइयाँ भेज सकते है।

विश्व पर्यटन दिवस पर नारें

“विभिन्नता को देखिये कई वेश में, कुछ दिन गुजारिये भारत देश में।”

अलग-अलग संस्कृति और सभ्यता का केंद्र भारत सैलानियों का पसंदीदा टूरिस्ट प्लेस भारत

“विभिन्न भाषा और संस्कृति को देखते है, पर्यटन से आप बहुत कुछ सीखते है।”

“पर्यटक का करे सम्मान, तभी बनेगा देश महान।”

“अनुभव से संतुष्टि आती है, पर्यटन से ही अनुभव मिल पाती है।”

अंतिम शब्द

अंत में आशा करता हूँ कि यह लेख आपको पसंद आया होगा और आपको हमारे द्वारा इस लेख में प्रदान कि गई अमूल्य जानकारी फायदेमंद साबित हुई होगी।

अगर इस लेख के द्वारा आपको किसी भी प्रकार की जानकारी पसंद आई हो तो, इस लेख को अपने मित्रों व परिजनों के साथ फेसबुक पर साझा अवश्य करें और हमारे वेबसाइट को सबस्क्राइब कर ले

5/5 - (2 votes)

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.