श्री कृष्ण जन्माष्टमी 2022 के लिए सुविचार

Happy Shri Krishna Janmashtami Quotes 2022 in Hindi

श्री कृष्ण जन्माष्टमी 2022 के लिए सुविचार : Happy Shri Krishna Janmashtami Quotes 2022 in Hindi For WhatsApp & Facebook:-

आज के इस लेख में हमनें ‘Shri Krishna Janmashtami Quotes 2022 in Hindi’ से सम्बंधित जानकारी प्रदान की है।

यदि आप Shri Krishna Janmashtami Quotes 2022 in Hindi से सम्बंधित जानकारी खोज रहे है? तो इस लेख को शुरुआत से अंत तक अवश्य पढ़े। तो चलिए शुरू करते है:-

श्री कृष्ण जन्माष्टमी 2022 के लिए सुविचार : Happy Shri Krishna Janmashtami Quotes 2022 in Hindi

हिन्दू धर्म में प्रतिवर्ष अनेकों त्यौहार बड़े ही धूमधाम से मनाए जाते है, इन्हीं में से एक त्योहार श्री कृष्ण जन्माष्टमी है। जनमाष्टमी के पर्व को हिन्दू धर्म में बहुत ही महत्वपूर्ण माना जाता है।

इस दिन भगवान विष्णु के अवतार श्री कृष्ण का जन्मदिवस माना जाता है। उनका जन्म 5200 ईसा. पूर्व हुआ था। उनका जन्म भाद्रपद माह के कृष्ण पक्ष की अष्टमी को माना जाता है।

उनका जन्म रोहिणी नक्षत्र में मध्यरात्रि के ठीक 12 बजे हुआ था। माना जाता है कि इस दिन उपवास व पूजा करने से श्री कृष्ण हर भक्त की मनोकामना का पूर्ण करते है।

इन दिन को भारत मे बड़े ही खास तरीके से मनाया जाता है। इस दिन सभी स्थानों पर सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है।

इस दिन पूरे भारत में मटकी फोड़ प्रतियोगिता का आयोजन किया जाता है। माना जाता है कि भगवान कृष्ण जी को माखन बहुत पसंद था।

इसलिए उस मटकी में माखन रखा जाता है। जो कोई व्यक्ति भी उस मटकी को फोड़ता है, उसे उपहार दिया जाता है।

उसके पश्चात इस दिन सभी एक साथ भगवान की आरती करते है, उन्हें मक्खन का भोग लगाते है। इसी तरह इस त्यौहार को बड़े ही धूमधाम से मनाया जाता है।

यदि आपको अपने त्यौहार को और भी अधिक खुशनुमा बनाना है, तो आप ऑनलाइन अपने मित्रों व परिवारजनों को कुछ जन्माष्टमी के लिए सुविचार भेजकर जन्माष्टमी की शुभकामनाएँ दे सकते है।

इस लेख में हम आपके लिए कुछ जन्माष्टमी के सुविचार लेकर आए है, जिन्हें आप अपने मित्रों व परिवारजनों को भेज सकते है और अपने त्यौहार को और भी अधिक आनंदमय बना सकते है।

श्री कृष्ण जन्माष्टमी 2022 के लिए सुविचार


(1)

मटकी तोड़े, माखन खाए,
लेकिन फिर भी सबके मन को भाए,
राधा के वो प्यारे मोहन,
महिमा उनकी दुनिया गाए।
श्री कृष्ण जन्माष्टमी की ढेर सारी शुभकामनाएं!


(2)

श्री कृष्ण गोविन्द हरे मुरारी
हे नाथ नारायण वासुदेवा,
एक मात स्वामी सखा हमारे,
हे नाथ नारायण वासुदेवा
जय श्री कृष्ण


(3)

बाल रूप है सब को भाता माखन चोर वो कहलाया है,
आला आला गोविंदा आला बाल ग्वालों ने शोर मचाया है,
झूम उठे हैं सब ख़ुशी में, देखो मुरली वाला आया है
श्री कृष्ण जन्माष्टमी की शुभकामनाएँ!


(4)

राधा की चाहत हैं कृष्णा,
उसके दिल की विरासत हैं कृष्णा,
चाहे कितना भी रास रचाए कृष्णा
दुनिया तो फिर भी यही कहती हैं “राधे कृष्ण।


(5)

जो है माखन चोर, जो है मुरली वाला,
वही है हम सबके दुःख दूर करने वाला।
जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएँ!


(6)

गोकुल में जो करे निवास,
गोपियों संग जो रचाए रास,
देवकी-यशोदा है जिनकी मेया,
ऐसे ही हमारे कृष्ण कन्हैया!
जय श्री कृष्णा! शुभ जन्माष्टमी!


(7)

राधा की भक्ति, मुरली की मिठास,
माखन का स्वाद और गोपियों का रास,
सब मिलके बनाते हैं जन्माष्टमी का दिन ख़ास।


(8)

श्री कृष्ण के कदम आपके घर आये,
आप खुशियों के दीप जलाएँ,
परेशानी आपसे आँखे चुराएँ,
कृष्णा जन्मोस्तव की आप सभी को शुभकामनाएँ।


(9)

राधा-राधा जपने से हो जाएगा तेरा उद्धार,
क्योंकि यही वही वो नाम है जिससे कृष्ण को प्यार!!


(10)

इस जन्माष्टमी पर श्री कृष्णा आपके घर आए
और माखन मिश्री के साथ सारे दुःखों
और कष्ट को भी ले जाएं।।
श्री कृष्ण जन्माष्टमी की बहुत-बहुत बधाई।


(11)

कृष्णा तेरी गलियों का जो आनंद है
वो दुनिया के किसी कोने में नहीं
जो मजा तेरी वृंदावन की रज में है
मैंने पाया किसी बिछौने में नहीं
जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएँ!


(12)

गोपियों के लिए रास जिसने रचाया,
उस कन्हैया का जन्मदिन है आज आया।
जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएँ!


(13)

चेहरे पर नटखट मुस्कान,
गोपियों की वो है जान,
यशोदा का है वो मान,
वो है प्यारा कन्हैया,
पूरे करता है अपने भक्तों का अरमान।
जन्माष्टमी की शुभकामनाएं!


(14)

कभी यहां फिरे, कभी वहां फिरे,
माखन चुराने न जाने कहां-कहां फिरे,
कुछ ऐसे हैं मां यशोदा के लाला,
इनका खेल होता है बड़ा निराला।
जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएँ!


(15)

झुकी पलकों से नमन हो जिनका,
सिर झुकाए वंदन हो जिनका,
कोई यादभर करे और वो दर्शन दे जाएं
कुछ ऐसी अदा है मेरे कान्हा की।
कृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएँ!


(16)

मेरे नंदलाल आपकी कृपा से मेरा सब काम हो रहा है,
करते हो तुम सब कुछ, लेकिन जग में मेरा नाम हो रहा है।
आपको कृष्ण जन्माष्टमी की बधाई!


(17)

मारे दुलारे वही सबसे प्यारे,
माखन के लिए झगड़ जाए,
गोपियां देखकर आकर्षित हो जाए लेकिन सबके रखवाले,
तभी तो सब के दुलारे
हैप्पी जन्माष्टमी


(18)

ब्रज के दुलारे, यशोदा मैया की आंखों के तारे,
राधा और गोपियां उन्हें सखा कहकर पुकारें
ऐसे मनमोहक हैं श्रीकृष्ण हमारे!
कृष्ण जन्माष्टमी की बधाई!


(19)

मुरली मनोहर कृष्ण कन्हैया
जमुना के तट पे विराजे हैं,
मोर मुकुट पर कानों में कुण्डल कर में मुरलिया साजे है।


(20)

गोपाल सहारा तेरा है, नंदलाल सहारा तेरा है, तू मेरा है
और मैं तेरा हूँ, मेरा सहारा और कोई नहीं,
तू माखन चुराने वाला है, तू चित को चुराने वाला है,
तू गाय चराने वाला है, तू बंसी बजाने वाला है,
ओ मेरे मुरारी तू रास रचाने वाला है।
कृष्ण जन्माष्टमी की शुभकामनाएं।



श्री कृष्ण जन्माष्टमी 2022
श्री कृष्ण जन्माष्टमी 2022 पर भाषण
श्री कृष्ण जन्माष्टमी क्यों मनाई जाती है?
श्री कृष्ण जन्माष्टमी 2022 के लिए ड्राइंग
श्री कृष्ण जन्माष्टमी 2022 के लिए स्टेटस
श्री कृष्ण जन्माष्टमी 2022 के लिए तस्वीरें
श्री कृष्ण जन्माष्टमी 2022 के लिए सुविचार
श्री कृष्ण जन्माष्टमी 2022 के लिए रंगोली डिजाईन
श्री कृष्ण जन्माष्टमी 2022 की हार्दिक शुभकामनाएँ
श्री कृष्ण जन्माष्टमी 2022 के लिए प्रसिद्द गीत व भजन
श्री कृष्ण जन्माष्टमी 2022 पर घर के लिए सजावट के विचार
श्री कृष्ण जन्माष्टमी 2022 की दिनांक, तिथि, समय व शुभ मुहूर्त

अंतिम शब्द

अंत में आशा करता हूँ कि यह लेख आपको पसंद आया होगा और आपको हमारे द्वारा इस लेख में प्रदान की गई अमूल्य जानकारी फायदेमंद साबित हुई होगी।

अगर इस लेख के द्वारा आपको किसी भी प्रकार की जानकारी पसंद आई हो तो, इस लेख को अपने मित्रों व परिजनों के साथ फेसबुक पर साझा अवश्य करें और हमारे वेबसाइट को सबस्क्राइब कर ले।

5/5 - (1 vote)

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.